Disclaimer :इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि newsnineharyana.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है और इसे आपकी जानकारी के लिए तैयार किया गया है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन या इंटरनेट पर रीसर्च ज़रूर कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। newsnineharyana.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

PM Yuva 2.0 Yojana के तहत मोदी सरकार देगी हर महीने म‍िलेंगे 50 हजार, यहाँ से करे आवेदन

govt youth scheme: केंद्र की मोदी सरकार की तरफ से युवाओं के ल‍िए 'पीएम युवा 2.0 योजना' (PM Yuva 2.0 Yojana) शुरू की जा रही है. इसके तहत युवा लेखकों को व‍िभ‍िन्‍न व‍िषयों पर ल‍िखने का मौका द‍िया जा रहा है.

PM Yuva Yojana: मोदी सरकार आपके ल‍िए खुशखबरी लेकर आई है. जी हां, केंद्र सरकार की तरफ से युवाओं के ल‍िए 'पीएम युवा 2.0 योजना' शुरू की जा रही है. इसके तहत युवा लेखकों को व‍िभ‍िन्‍न व‍िषयों पर ल‍िखने का मौका द‍िया जा रहा है. मेंटोरशिप योजना के तहत युवाओं को यह अवसर द‍िया जा रहा है. योजना के तहत ज‍िन युवा लेखकों का चयन होगा, उन्‍हें छात्रवृत्ति के रूप में हर महीने 50,000 रुपये दिए जाएंगे.

30 साल से कम उम्र वाले ह‍िस्‍सा ले सकते हैं

योजना के तहत 30 साल तक की उम्र वाले युवा ह‍िस्‍सा ले सकते हैं. इसके ल‍िए आवेदन प्रक्र‍िया की अंत‍िम त‍िथ‍ि 15 जनवरी तय की गई है. भारतीय भाषाओं और अंग्रेजी में युवा व नए लेखकों की भागीदारी को देखते हुए केंद्र सरकार की तरफ से यह योजना लाई गई है. पीएम युवा योजना के पहले भाग में काफी अच्‍छा र‍िस्‍पांस म‍िला था. देश में पढ़ने-लिखने और पुस्तक संस्कृति को बढ़ावा देने के लिए इस प्रक्र‍िया को शुरू क‍िया गया है.

75 लेखकों का चयन क‍िया जाएगा

योजना के तहत देशभर में कुल 75 लेखकों का नेशनल बुक ट्रस्ट ऑफ इंडिया (NBT) की तरफ से चयन क‍िया जाएगा. मेंटरशिप योजना में प्रशिक्षण एवं मार्गदर्शन के अंत में छात्रवृत्ति के रूप में 50,000 रुपये हर महीने के ह‍िसाब से छह महीने के ल‍िए 3 लाख रुपये हर युवा लेखक को दिए जाएंगे.

इन भाषाओं में कर सकते हैं आवेदन

22 अलग-अलग भाषाओं के जानकार 'पीएम युवा 2.0 योजना' में ह‍िस्‍सा ले सकते हैं. इन भाषाओं में अंग्रेजी, हिंदी, उर्दू, असमिया, बांग्ला, गुजराती, कन्नड़, कश्मीरी, कोंकणी, मलयालम, मणिपुरी, मराठी, नेपाली, उड़‍िया, पंजाबी, संस्कृत, सिंधी, तमिल, तेलुगु, बोडो, संथाली, मैथिली और डोगरी शाम‍िल है.

ऐसे करना होगा आवेदन

  • सबसे पहले वेबसाइट https://innovateindia.mygov.in/yuva/ पर जाएं.
  • यहां नीचे की तरफ बांयी ओर 'क्लिक हेयर टू सब्मिट' पर क्लिक करें.
  • वेबसाइट पर पीएम युवा 2.0 योजना से जुड़ी पूरी जानकारी दी गई है.
  • यहां पर आप ऑनलाइन आवेदन फॉर्म भरकर सब्‍म‍िट कर सकते हैं.

Disclaimer :इस खबर में जो भी जानकारी दी गई है उसकी पुष्टि newsnineharyana.com द्वारा नहीं की गई है। यह सारी जानकारी हमें सोशल और इंटरनेट मीडिया के जरिए मिली है और इसे आपकी जानकारी के लिए तैयार किया गया है। खबर पढ़कर कोई भी कदम उठाने से पहले अपनी तरफ से लाभ-हानि का अच्छी तरह से आंकलन या इंटरनेट पर रीसर्च ज़रूर कर लें और किसी भी तरह के कानून का उल्लंघन न करें। newsnineharyana.com पोस्ट में दिखाए गए विज्ञापनों के बारे में कोई जिम्मेदारी नहीं लेता है।

PM Jan Dhan Yojana : जन धन योजना का खता कैसे खुलवाए और लाभ के बारे में जानें

PM Jan Dhan Yojana: How to open Jan Dhan Yojana account and know about the benefits

मोदी सरकार ने 2014 में बैंकिंग सिस्टम से जोड़ने के लिए पीएम जनधन योजना की शुरुआत की थी। बैंकिंग सेवाओं तक पहुंच सहित इस योजना के कई लाभ हैं। भारत का एक नागरिक जिसके पास वर्तमान में कोई अन्य बैंक अकाउंट नहीं है, वह किसी भी बैंक ब्रांच या बिजनेस कॉरेस्पोंडेंट आउटलेट में योजना के भारत में व्यापार लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें? तहत एक बुनियादी सेविंग बैंक जमा अकाउंट खोल सकता है। समेकित आंकड़ों (पीएमजेडीवाई) के अनुसार, प्रधानमंत्री जन धन योजना के माध्यम से 47 करोड़ से अधिक अकाउंट खोले गए हैं।

जन धन अकाउंट के होल्डर्स को सरकार की ओर से 10,000 रुपये मिलेंगे। इसके अलावा भारत में व्यापार लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें? और भी कई फायदे हैं जैसे 1 लाख 30 000 रुपये तक के बीमा की उपलब्धता। यदि आप इन कार्यक्रमों के बारे में नहीं जानते हैं, तो तुरंत पता करें और 10,000 रुपये के लिए आवेदन करें।

जन धन योजना के तहत लाभ के प्रकार:

पहला फायदा यह है कि अकाउंट होल्डर्स को अपने अकाउंट में मिनिमम बैलेंस मेंटेन करने की जरूरत नहीं होती है।

रुपे डेबिट कार्ड प्रदान किया जाता है, और यदि आप चाहें तो इस अकाउंट पर 10,000 रुपये के ओवरड्राफ्ट के लिए बैंक में आवेदन कर सकते हैं। इसके लिए आपको अपने बैंक की ब्रांच में संपर्क करना होगा।

दुर्घटना में मृत्यु होने की स्थिति में अकाउंट होल्डर्स के परिवार को बीमा कवरेज के रूप में 1 लाख रुपये प्राप्त होंगे। वहीं, सामान्य परिस्थितियों में मौत होने पर 30,000 रुपये भारत में व्यापार लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें? की कवर राशि दी जाती है।

पीएम जन धन योजना अकाउंट प्रत्यक्ष लाभ अंतरण (डीबीटी), प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना (पीएमजेजेबीवाई), प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना (पीएमएसबीवाई), अटल पेंशन योजना (एपीवाई), माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी बैंक (एपीवाई) के लिए पात्र हैं। मुद्रा) योजना।

आधार कार्ड
पैन कार्ड
ड्राइविंग लाइसेंस
वोटर आई.डी
पासपोर्ट

दोहा से जकार्ता जा रही फ्लाइट में तकनीकी खराबी, मुंबई डायवर्ट

मुंबई, एजेंसी। तकनीकी समस्या के कारण भारत में व्यापार लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें? कतर एयरवेज की फ्लाइट को मुंबई डायवर्ट कर.

दोहा से जकार्ता जा रही फ्लाइट में तकनीकी खराबी, मुंबई डायवर्ट

मुंबई, एजेंसी। तकनीकी समस्या के कारण कतर एयरवेज की फ्लाइट को मुंबई डायवर्ट कर दिया गया। जानकारी के मुताबिक, बुधवार को दोहा से जकार्ता (इंडोनेशिया) जाने वाली कतर एयरवेज की फ्लाइट क्यूआर954 में अचानक तकनीकी दिक्कत हो गई। इसके बाद पायलट ने विमान को मुंबई की तरफ डायवर्ट कर दिया। इस संबंध में कतर एयरवेज ने बयान जारी कर कहा कि यात्रियों के लिए दोहा से दूसरे विमान की व्यवस्था की जा रही है। ताकि यात्री जल्द इंडोनेशिया की अपनी यात्रा फिर से शुरू कर सकें। एयरवेज ने इस असुविधा के लिए यात्रियों से माफी भी मांगी। बता दें कि दिसंबर की शुरुआत में दोहा की ओर जा रहे एक इंडिगो विमान को मुंबई हवाई अड्डे पर मोड़ दिया गया था। उस वक्त पता चला था कि 3 हाइड्रोलिक सिस्टम में से एक खराब हो गया था।

SBI e-Mudra लोन क्या हैं? योग्यता, आवश्यक दस्तावेज; जाने पुरी खबर

SBI e-Mudra Loan : SBI ई-मुद्रा लोन क्या है? ऑनलाइन आवेदन करें, पात्रता, आवश्यक दस्तावेज एसबीआई ई-मुद्रा ऋण क्या है | SBI ई-मुद्रा लोन क्या है? एसबीआई ई-मुद्रा आवश्यक दस्तावेज | एसबीआई ई-मुद्रा आवश्यक योग्यता | एसबीआई ई-मुद्रा पात्रता | एसबीआई ई-मुद्रा ऋण पात्रता | एसबीआई ई-मुद्रा ऋण के लाभ

SBI ई-मुद्रा लोन क्या है?
भारतीय स्टेट बैंक द्वारा मुद्रा लोन भारत सरकार द्वारा संचालित एक योजना है। इस योजना का उद्देश्य भारत में व्यापार लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें? छोटे और बड़े पैमाने के उद्योगों को तदनुसार ऋण प्रदान करना है। इस योजना एमएसएमई यानी माइक्रो स्मॉल एंड मीडियम एंटरप्राइजेज को बैंकों से 10 लाख रुपये का कर्ज मिल सकता है। जो व्यक्ति अपना उद्योग स्थापित करना चाहता है, व्यापार करना चाहता है तो इस बैंक के माध्यम से ही उसे मुद्रा लोन योजना के तहत लोन की सुविधा मिल सकती है।

एसबीआई ई-मुद्रा ऋण के लाभ
एसबीआई ई-मुद्रा ऋण योजना के क्या लाभ हैं।

  • SBI ई-मुद्रा लोन के तहत, लोन पर ब्याज 8.5% से 12% प्रति वर्ष तक ही होता है।
  • ऋण चुकौती अवधि 12 महीने से 60 महीने तक होती है।
  • एसबीआई ई-मुद्रा इस योजना के तहत छोटे व्यापारी 10 लाख तक का कर्ज लेकर अपना नया कारोबार शुरू कर सकते हैं।
  • एसबीआई ई-मुद्रा से बिना बैंक जाए भी लोन मिल सकता है। SBI ई-मुद्रा लोन के तहत आप घर बैठे ₹50000 तक का ऑनलाइन लोन सिर्फ 3 मिनट में प्राप्त कर सकते हैं।
  • SBI ई-मुद्रा लोन योजना से आपको कम वित्तीय बोझ उठाना पड़ सकता है।
  • एसबीआई ई-मुद्रा लोन के प्रकार
  • एसबीआई ई-मुद्रा ऋण के विभिन्न प्रकार हैं।

किशोर ऋण – यह ऋण एक नए व्यवसाय को बढ़ावा देने के लिए होता है। इसके तहत लोन के रूप में मिलने वाली राशि 50000 से 500000 तक होती है। इसमें आपको किसी भी प्रकार का प्रोसेसिंग शुल्क नहीं देना होगा केवल 10% मार्जिन राशि देनी होगी।

शिशु ऋण – यह एक नया व्यवसाय शुरू करने के लिए है। इसमें 10,000 से 50,000 तक का लोन मिलता है।

तरुण ऋण- इसके अंतर्गत 5 लाख से 10 लाख तक का ऋण दिया जाता है।

न्यू एड शिक्षक भर्ती के सुपरमैन है संगठन के अध्यक्ष सुनील यादव, कैसे पढ़िए विस्तार से

72825 न्यू एड की जमीनी स्तर से लेकर हाई कोर्ट से होते हुए सुप्रीम कोर्ट तक की लड़ाई लड़ने वाले और न्यू ऐड की लड़ाई को हाई कोर्ट में पुनः शुरुआत करने वाले बीएड टेट 2011 बेरोजगार अचयनित एसोसिएशन के अध्यक्ष सुनील यादव ने संगठन के द्वारा 72825 न्यू एड की शिक्षक भर्ती को अभी भी जीवित रखा है।

संघ भारत में व्यापार लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें? के अध्यक्ष सुनील यादव ने विधानसभा चुनाव में न्यू एड शिक्षक भर्ती को जीवन दान देने के लिए इसी शिक्षक भर्ती के जन्म कार तत्कालीन मुख्यमंत्री अखिलेश यादव की पार्टी का भरपूर साथ दिया था मगर समाजवादी पार्टी विधानसभा चुनावों में हार गई और न्यू एड का मुद्दा थम गया।

इससे पहले बेरोजगार संगठन के अध्यक्ष सुनील यादव ने न्यू ऐड पर शिक्षक भर्ती के लिए लखनऊ के इको गार्डन में हजारों अचयनितों के साथ बहुत बड़ा आंदोलन भी किया था जिसमें पूरे उत्तर प्रदेश के सभी जनपदों से बीएड अभ्यर्थियों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया था।

न्यू शिक्षक भर्ती में जान फूंकने वाले सुनील यादव ने अपने नेतृत्व में किए गए सभी आंदोलनों का बखूबी नेतृत्व किया मगर सरकारों के बीच राजनीतिक विद्वेष के चलते न्यू एड शिक्षक भर्ती अपने गंतव्य पर नहीं पहुंच सकी।

इको गार्डन में हुए आंदोलन की भयावहता को देखते हुए योगी सरकार ने आंदोलन को खत्म करने के लिए तब अभ्यर्थियों पर लाठीचार्ज करवा दिया जब वह शांतिपूर्ण लखनऊ की सड़कों पर पैदल मार्च कर रहे थे। इस लाठीचार्ज में कई अभ्यर्थियों को गहरी चोट लगी जिसमें महिला अभ्यर्थी भी शामिल थी। आपको जानकर हैरानी होगी कि इस आंदोलन में मेल अभ्यर्थियों के साथ ऐसी कुछ फीमेल अभ्यर्थियों ने भी प्रतिभाग किया था जो गर्भवती थी।

इसके अलावा सुनील यादव ने संगठन के अपने साथियों के साथ तकरीबन हर पार्टी के अध्यक्षों से मुलाकात कर अपनी पीड़ा व्यक्त की मगर पीड़ा तो पीड़ा के रूप में बनी रही उसका इलाज नहीं हो पाया।

बता दें कि न्यू ऐड शिक्षक भर्ती का मुद्दा पिछले 10 वर्षों पुराना है मेरे आज भी इस मुद्दे को जीवंत रखने के लिए सबसे बड़ा रोल अध्यक्ष सुनील यादव का रहा। सुनील यादव के साथ हजारों ऐसे अचयनित सदस्य हैं जिनका सपोर्ट संगठन को मजबूती प्रदान करता है।

यूपी सरकार ने कोर्ट में बोला था झूठ: सुनील यादव

न्यू एड शिक्षक भर्ती के लिए अपना सर्वस्व न्योछावर करने वाले संगठन के अध्यक्ष सुनील यादव अचयनितों के लिए बहुत बड़ी आशा के रूप में खड़े हैं। पिछले कुछ दिनों पहले सुनील यादव ने अपने साथियों से कहा कि सुप्रीम कोर्ट में हमारे केस की याचिका को फीस वापसी की बात को कहते हुए खारिज कर दिया गया था जो कि 100% असत्य है।

न्यू ऐड का केस अब भी है बहुत स्ट्रांग

प्रदेश में ऐसा कोई अभ्यर्थी नहीं जो इस बात का प्रूफ दे सके कि सरकार द्वारा फीस वापसी की गई है। संगठन के साथ लड़ने वाले सभी अभ्यर्थियों को एक दिन भारत में व्यापार लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें? जरूर लाभ पहुंचेगा। अगर अब किसी को लगता है कि सरकार द्वारा फीस वापसी का आदेश देकर फीस वापस करके न्यू ऐड पर ब्रेक लगा सकती है तो ऐसा कैसे संभव होगा। फीस वापसी के आदेश पर सुप्रीम कोर्ट अपनी मुहर लगा चुका है।जहां आदरणीय कपिल सिब्बल सर की बेहतरीन दलालों के बाद एक झूठा आर्डर थमा दिया गया हमें कि फीस वापिस हो चुकी है।

न्यू ऐड की लड़ाई सबसे अलग

सुनील यादव ने कहा कि हमारा संगठन किसी को भी कोर्ट की लड़ाई लड़ने के लिए नहीं रोकता। मगर ऐसे मुद्दों को ले जाकर कोर्ट में क्या लड़ना जो टेबल पर जाकर तुरंत खारिज हो जाए। न्यू ऐड की लड़ाई इसलिए सबसे अलग है।

वक्त आने दीजिये ये सारी बातें काम आयेंगी संगठन चाहता है माननीय हाईकोर्ट हमारे मुद्दे पर कल निर्णय कर दें लेकिन जिस देश में करोड़ों केस पेंडिंग हैं वहां संगठन कोशिश शीघ्र निस्तारण पर है।

सुनील यादव की अपील

मेरा पुनः सभी साथियों से हाथ जोड़कर अपील अपने अपने कार्यों परिवार के प्रति जिम्मेदारी को निभाते रहें सिर्फ समय मिलने पर सोशल मीडिया से सपोर्ट करते रहें अब भारत में व्यापार लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें? आपको कुछ नहीं करना है,न ही धन खर्च करना है कहीं, संगठन के जिम्मेदार साथियों पर भरोसा रखें वो बखूबी लड़ेंगे और लड़ेंगे तभी जीतेंगे।

सुनील यादव का सोशल मीडिया पर संबोधन

सुनील यादव ने हाल ही में सोशल मीडिया पर सभी अभ्यर्थियों के लिए किया भारत में व्यापार लाइसेंस के लिए आवेदन कैसे करें? था संबोधित, क्या कहा सुनिए

इसके अलावा सुनील यादव ने नई जानकारी देते हुए कहा कि पिता तुल्य राकेश मिश्रा अंकल द्वारा उन्हें न्यू ऐड शिक्षक भर्ती में कोर्ट के लिए महत्वपूर्ण सबूत मिले हैं जो उन्होंने इलाहाबाद हाईकोर्ट में सन 2016 में याचिका में पेश किए थे। संगठन की ईमानदारी की लड़ाई को देखकर पूरी फाइल उन्होंने संगठन को सौंप दी है। उनके द्वारा अधिवक्ताओं से ली गई सलाह के आधार पर महत्वपूर्ण बिंदुओं को हमारे साथ साझा किया जो न्यू एड की लड़ाई में शामिल किए जाएंगे।

सुनील यादव ने कहा कि केस को लेकर कोई शिथिलता नहीं होगी संगठन के द्वारा भरोसा रखें अपनी पारिवारिक जिम्मेदारियों को पूरा करते रहें जो रिटों में शामिल साथी हैं विनम्रता पूर्वक दोहराता हूँ आपके कारण लड़ पा रहे हैं समय लग सकता है इस न्याययिक प्रकिया में इसके सहारे कोई काम न रोकें बल्कि गौरव का अनुभव करें कि आप इतने वर्षों बाद भी इस संघर्ष को जिंदा किये हैं।

रेटिंग: 4.98
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 380